नोएडा में हनी ट्रैप में फंसाकर लूटने वाले गिरोह का भंडाफोड़

हनी ट्रैप
हनी ट्रैप

नोएडा: प्रदेश में कानून व्यवस्था सुचारु रूप से चल रहे हैं इसकी जानकारी हम नोएडा पुलिस के जागरूक और नागरिकों के प्रति अपने कर्तव्य को निभाते हुए देख सकते हैं। नोएडा पुलिस ने एक ऐसे गिरोह का पर्दाफाश किया है, जो लोगों को हनी ट्रैप में फंसाकर रुपये ऐंठता था। पुलिस ने गैंग के सात सदस्यों, जिसमें एक दंपती भी शामिल है, को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने आरोपितों की गिरफ्त से एक पीड़ित व्यक्ति को भी मुक्त कराया है। आरोपियों की पहचान गाजियाबाद के मसूरी निवासी मतीन, वकील, वकील की पत्नी रोशन, राशिद, असरफ, मसूरी निवासी शबनम और मेरठ के बसौद गांव निवासी इमरान के रूप में हुई है।

Noida Mall में महिलाओं ने की चोरी 

हनी ट्रैप-

एडीसीपी अंकुर अग्रवाल ने बताया कि 14 जनवरी, 2021 को ककराला गांव निवासी मो.तोसीफ ने कोतवाली फेस-2 में लिखित शिकायत दी थी। उसने बताया था कि 13 जनवरी को उनके भाई नसरत का फोन उनके पास आया था। फोन पर कुछ लोगों ने उसे नोएडा में एफएनजी रोड पर बुलाया था। रात में स्वजन के पास फोन आया, तो पता लगा कि नसरत को गाजियाबाद के मुरादनगर में कुछ लोगों ने बंधक बना रखा है और उससे मारपीट कर रहे हैं। इसके अलावा किसी महिला के साथ बलात्कार के झूठे मामले में फंसाकर उसकी वीडियो बनाकर दो लाख रुपये की मांग कर रहे हैं।

हनी ट्रैप
हनी ट्रैप

पुलीस एक्शन में-

पीड़ित के भाई से मिली सूचना के आधार पर मामला दर्ज कर कोतवाली फेस-2 पुलिस और एसीपी ने टीम गठित कर मामले की जांच शुरू की। पुलिस टीम ने पीड़ित के मोबाइल को ट्रैक कर आरोपितों की लोकेशन का पता किया और गाजियाबाद के मुरादनगर में छापा मारकर सात आरोपितों को गिरफ्तार किया है। आरोपितों के कब्जे से पुलिस ने पीड़ित की इनोवा कार और मोबाइल बरामद करने के साथ तीन और मोबाइल फोन और 20 हजार रुपये नकद बरामद किए हैं। आरोपितों से फिलहाल पूछताछ की जा रही है कि इससे पहले वह कितने लोगों को इस तरह फंसाकर कितने रुपये ऐंठ चुके हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published.