भव्य होगा बोस के 125वें जन्मदिन का समारोह, PM मोदी करेंगे नेतृत्व

बोस का 125वां जन्मदिन भव्य तरीके से मनाएगी मोदी सरकार
बोस का 125वां जन्मदिन भव्य तरीके से मनाएगी मोदी सरकार

नई दिल्ली: नेता जी सुभाष चन्द्र बोस के 125 वें जन्मदिन को भव्य रूप से मनाने की रूपरेखा तैयार करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में एक उच्च स्तरीय समिति का गठन किया गया है।

23 जनवरी को देशभर में नेता जी का 125 वां जन्मदिन मनाया जाएगा। परन्तु केंद्र सरकार इस समारोह को भव्य बनाना चाह रही है। इसी के चलते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में एक उच्च स्तरीय समिति का गठन किया गया है। साथ ही इस समिति के संबंध में एक गजट नोटिफिकेशन शनिवार के दिन जारी किया गया है। जो नेता जी सुभाष चन्द्र बोस के 125 वें जन्मदिन को भव्य रूप से मनाने की रूपरेखा को लेकर निर्देश देगी।

बोस का 125वां जन्मदिन भव्य तरीके से मनाएगी मोदी सरकार
बोस का 125वां जन्मदिन भव्य तरीके से मनाएगी मोदी सरकार

मोदी, शाह से लेकर ममता तक सभी होंगे शामिल-

आपको बता दें कि 85 सदस्यों कि यह उच्चस्तरीय समिति नेता जी सुभाष चन्द्र बोस के 125 वें जन्मदिन के मौके पर मनाए जाने वाले कार्यक्रमों को लेकर निर्णय लेगी, जो 23 जनवरी, 2021 से शुरू हो रहे हैं। समिति में केंद्रीय मंत्री, बंगाल से संसद के सदस्य, कुछ राज्यों के मुख्यमंत्री, इतिहासकार और अन्य प्रतिष्ठित नागरिक शामिल किए गए हैं।

शाह के दौरे के बाद बंगाल में फिर से हिंसा, भिड़े शुभेंदु अधिकारी और TMC के समर्थक

बोस का 125वां जन्मदिन भव्य तरीके से मनाएगी मोदी सरकार
बोस का 125वां जन्मदिन भव्य तरीके से मनाएगी मोदी सरकार

अमित शाह के रोड़ शो में उमड़ी भीड़, बंगाल में लहराया भगवा सागर

साथ ही समिति में गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़, पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह और एचडी देवगौड़ा, एनसीपी प्रमुख शरद पवार, लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला. इनके अलावा कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद और अधीर रंजन चौधरी भी शामिल हैं।

बोस का 125वां जन्मदिन भव्य तरीके से मनाएगी मोदी सरकार
बोस का 125वां जन्मदिन भव्य तरीके से मनाएगी मोदी सरकार

शुभेंदु अधिकारी को भी समिति में मिली जगह-

गौरतलब है कि हाल ही में तृणमूल कांग्रेस छोड़कर भारतीय जनता पार्टी की तरफ रुख करने वाले शुभेंदु अधिकारी और सांसद सुनील मंडल को भी इस समिति में जगह मिली है। साथ ही मोदी सरकार ने इस समिति में नेताजी के परिवार के सदस्यों को भी नियुक्त किया है, जिसमें उनकी बेटी अनीता बोस, भतीजे अर्धेंदु बोस, पोते चंद्र कुमार बोस और पोती रेणुका मालेकर शामिल हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published.