तीन और लड़ाकू विमान राफेल भारत पहुंचे, तय किया 7000 किमी का सफर

लड़ाकू विमान राफेल
लड़ाकू विमान राफेल

नई दिल्ली: भारत में देर रात फ्रांस से और तीन लड़ाकू विमान राफेल पहुंच चुके है इन तीनों लड़ाकू विमानों ने बोर्डोक्स से अंबाला तक का सफल बिना रूके पूरा किया है। सफर के दौरान इन विमानों में सयुंक्त अरब अमीरात के एयर रिफ्यूलिंग एयरक्राफ्ट के जरिए ईंधन भरा गया। भारतीय वायुसेना ने ट्वीट कर बताया कि ये विमान एयरफोर्स के बेस पर उतर चुके हैं। एयरफोर्स ने एयरबेस के नाम का खुलासा नहीं किया है। इन विमानों के आने के बाद भारतीय वायुसेना की ताकत और बढ़ गई है।

 

लड़ाकू विमान राफेल
लड़ाकू विमान राफेल

लड़ाकू विमान राफेल

भारतीय वायुसेना ने मिड एयर रिफ्यूलर के जरिए ईंधन भरने पर यूएई की एयरफोर्स को धन्यवाद किया। बताया गया है कि इन विमानों ने जामनगर एयरफोर्स स्टेशन पर लैंड किया गया । यहां कस्टम संबंधी सभी औपचारिकता पूरी करने के बाद विमान दोबारा उड़ान भरकर अंबाला एयरफोर्स स्टेशन पहुंचेंगे।

राफेल की संख्या 11 हो गई है

जहां इन्हें 17 गोल्डन एरो स्क्वॉड्रन में शामिल किया जाएगा। इन तीन विमानों के भारत पहुंचने के बाद एयरफोर्स के बेड़े में राफेल की संख्या 11 हो गई है। बता दें कि पांच राफेल विमानों के पहले बैच को 10 सितंबर को भारतीय वायुसेना में कमीशन किया गया था। इसके बाद नवबंर 2020 में तीन और राफेल विमान भारत पहुंचे थे।

लगभग 1000 किमी प्रतिघंटे की गति-

इन विमानों ने फ्रांस से भारत तक का सफर पूरा करने के दौरान लगभग 1000 किमी प्रतिघंटे की गति से उड़ान भरी। हालांकि, राफेल की अधितकम स्पीड 2222 किमी प्रति घंटा है। ये राफेल विमान पूर्ण रूप से कॉम्बेट रेडी पोजिशन में हैं। जिन्हें कुछ दिनों के अंदर ही किसी भी ऑपरेशन में लगाया जा सकेगा। बताया कि नए राफेल विमानों के यहां आने से अब इन विमानों की संख्या बढ़ कर 11 हो गयी है।

राजपथ पर यूपी की झांकी को मिला पहला स्थान

Leave a comment

Your email address will not be published.