लव जिहाद : शादी से इंकार किया तो सरफिरे ने हथौडे़ से पीट-पीटकर कर दी हत्या

लव जिहाद
लव जिहाद

नई दिल्ली: दिल्ली में लव जिहाद का मामला सामने आया है बेगमपुर थाना इलाके में शादी के लिए मना करने पर एक युवक ने 17 वर्षीय लड़की की हथौड़े से हत्या कर दी। आरोपी ने वारदात को अंजाम मृतका के घर में दिया। वारदात के बाद आरोपी मौके से फरार हो गया। मृतका का नाम नीतू (17) है। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल की मोर्चरी में सुरक्षित रखवा दिया है। पुलिस का कहना है कि आरोपी की पहचान कर ली गई है। जल्द ही उसे गिरफ्तार कर लिया जाएगा। पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर आरोपी की तलाश शुरू कर दी है।

लव जिहाद का मामला

जानकारी के मुताबिक नीतू, बेगमपुर इलाके में सपरिवार रहती थी। परिवार में पिता दुर्गेश कुमार, दो बेटे और एक बेटी है। वह दो साल पहले बवाना में रहते थे। नीतू अपनी सहेली के घर आया जाया करती थी। इसी दौरान उसकी मुलाकात लईक खान से हुई। इसके बाद दोनों के बीच दोस्ती हो गई। दो साल पहले दुर्गेश ने बेगम विहार इलाके में अपना मकान बना लिया।

लव जिहाद
लव जिहाद

लईक यहां भी आने-जाने लगा। करीब तीन माह से आरोपी नीतू पर शादी का दबाब बना रहा था। लेकिन नीतू शादी के लिए राजी नहीं हुई। इसके बाद आरोपी उसे जान से मारने की धमकी देने लगा। शुक्रवार को आरोपी ने नीतू की हथौड़े से हत्या कर दी।

मृतका का भाई जानता था आरोपी को

मृतका के चचेरे भाई कौशल ने पुलिस को बताया कि शुक्रवार शाम करीब 5:00 बजे वह अपने चाचा के घर पर था। इसी दौरान लईक वहां आया। लईक के आने के बाद वह छत पर चला गया। लईक और नीतू दोनों नीचे बात करने लगे। शाम करीब 6:00 बजे लईक ने कौशल को नीचे बुलाया। इसके बाद उसने उसे चिकन लाने के लिए 200 रुपये दिए। इसके बाद वह कहने लगा कि आज यहीं खाना खाकर जाएगा। नीतू के कहने पर वह बाजार के लिए पैदल ही चला गया।

लईक ड़र के भाग गया

शाम करीब 7:45 बजे कौशल बाजार से चिकन लेकर लौटा। इस दौरान उसने देखा कि लईक घबराई हुई हालत में दरवाजे पर ताला लगा रहा था। उसके कपड़े खून से सने थे और उसके हाथ में हथौड़ा था। लईक को देखकर कौशल ने आवाज दी और उसे रूकने के लिए कहा इस पर लईक वहां ड़र के भाग गया।

लव जिहाद
लव जिहाद

खून से लथपथ फर्श पर पड़ी मिली

आरोपी लईक के मौके से फरार होने के बाद कौशल ने नीतू को फोन किया, फोन घर के अंदर ही बज रहा था, लेकिन अंदर से कोई जवाब नहीं आया। इसके बाद वह घर के बाहर ही बैठकर परिवार के अन्य सदस्यों का इंतजार करने लगा।

Bhim Army का नेता निकला Dalit का हत्यारा, नवाबगंज दोहरे हत्याकांड का खुलासा

नीतू की मां जब पहुंची तो उसने देखा कि कौशल घर के बाहर बैठा था। इस पर उसने कौशल से पूछा कि वह घर के बाहर क्यों बैठा है। इस पर कौशल ने उन्हें पूरी आपबीती सुनाई। मां के कहने पर घर के दरवाजे का ताला तोड़ा। वह घर के अंदर दाखिल हुए तो उन्हें नीतू खून से लथपथ हालत में फर्श पर पड़ी मिली। वह उसे अस्पताल लेकर गए जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

Leave a comment

Your email address will not be published.