यूपी का ऐसा स्कूल जो दिखता है ट्रेन की तरह, मगर इसमें होती है पढ़ाई

यूपी का ऐसा स्कूल
यूपी का ऐसा स्कूल

नई दिल्ली: यूपी का ऐसा स्कूल, यूपी के कानपुर में कोरोना के लंबे समय के बाद स्कूल को खोल दिया गया है। बच्चों में स्कूल के प्रति रोमांच बढ़ाने के लिये कानपुर शहर में एक स्कूल को ट्रेन का रूप दिया गया है। बता दें कि भीतरगांव में एक स्कूल को ट्रेन के कोच की तरह रंग दिया गया है। देखने में ये स्कूल बेहद आकर्षक दिखता है। इस स्कूल को रेलगाड़ी के डिब्बे के नीले रंग की तरह बनाया गया है।

यूपी का ऐसा स्कूल
यूपी का ऐसा स्कूल

प्रशासन की स्कूल के प्रति नई सोच

कोविड़-19 महामारी की वजह से स्कूल बंद चल रहे थे। कोरोना के घटते मामलों के बाद सरकार ने कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए स्कूल खोलने के आदेश दिये हैं। बच्चों में स्कूल के प्रति उत्साह जगाने के लिये स्कूल प्रशासन की ये पहल काफी सुर्खियां बटोर रही है। इस स्कूल के कमरे के दरवाजों को कोच की दरवाजों की तरह पेंट किया गया है।

पंडित दीनदयाल उपाध्याय – जिनके पुण्यतिथि पर भाजपा मनाती है ‘समर्पण दिवस’

यूपी का ऐसा स्कूल

स्कूल में ट्रेन की तरह रूप देने पर स्कूलों में एक बार फिर से बच्चो की रौनक लौट आई है। 11 महीने से खाली पड़ी कलासों में अब स्टूडेंट्स स्कूल में आने लगे है। प्रदेश में कक्षा 6 से 8 तक के स्कूलों को  फिर से खोला दिया है। जैसे ही पहले दिन स्टूडेंट्स स्कूल पहुंचे उन्होके चेहरे खिले हुए थे।

स्टूडेंट्स की सेफ्टी

सरकारी स्कूलों में स्टूडेंट्स की सेफ्टी के लिए खास इंतजाम किए गए हैं। कई स्कूलों के मेन गेट पर ही सैनिटाइजेशन टनल लगाए गए हैं। इसके अलावा क्लास रूम में बेंच छोटी होने पर एक बेंच पर एक ही स्टूडेंट को बैठाया जा रहा है। 11 महीने के बाद स्कूल खुलने से बच्चों में दोस्तों और टीचर्स से मिलने को लेकर एक्साइटमेंट बढ़ा हुआ है। बच्चों के माता पिता को शुरू में स्कूल खुलने का पता चला तो काफी डरे हुए थे।

साथ ही कई के माता पिता ने तो सोचा था अभी बच्चों को स्कूल नहीं भेजेंगे। फिर स्कूल ने सभी पेरेंट्स को बुलाकर पेरेंट्स मिंटिग की और अपनी तैयारी दिखाई तो सभी का डर निकल गया और बच्चों को स्कूल भेजने का फैसला किया

इंडोनेशिया में सड़कों पर बहा रहा खून 

Leave a comment

Your email address will not be published.