मायावती ने कांग्रेस को लिया आड़े हाथ, पार्टी की नीतियों को बताया गलत तथा जनविरोधी

मायावती ने कांग्रेस को लिया आड़े हाथ
मायावती ने कांग्रेस को लिया आड़े हाथ

नई दिल्ली : बहुजन समाज पार्टी (बसपा) सुप्रीमो मायावती ने कहा कि आज अगर भाजपा शक्तिशाली व सत्तासीन है तो इसके लिए सबसे बड़ी जिम्मेदार और कसूरवार कांग्रेस पार्टी और उसकी गलत तथा जनविरोधी नीतियां हैं। उन्होंने कहा कि यह जग-जाहिर है कि हर पार्टी के सामने उतार-चढ़ाव आते रहते हैं और आकादी के पश्चात लगभग 70 वर्षों तक लुप्तप्राय: रहने के बाद आज सत्तासीन जनसंघ/भाजपा की साम्प्रदायिकता व घिनौनी जनविरोधी एवं जातिवादी नीतियां, कांग्रेस सरकारों की तरह चरम पर हैं। ऐसा किसने सोचा था?

भाजपा में शामिल हुए मिथुन चक्रवर्ती, हाथ में पार्टी का झंडा लेकर ली सदस्यताआज भाजपा अगर शक्तिशाली व सत्तासीन है तो इसके लिए सबसे बड़ी जिम्मेदार तथा कसूरवार कांग्रेस पार्टी और उसकी गलत तथा जनविरोधी नीतियां हैं। उन्होंने कहा कि केन्द्र व उत्तर प्रदेश की सरकार जन, समाज व देशहित को पीछे छोड़ अपनी शक्तियों का दुरुपयोग करके अपने विरोधियों की आवाज दबाने में लगी हुई हैं, जो भारत के लोकतंत्र के लिए अति-दुर्भाग्यपूर्ण है।

UP : विधानसभा चुनाव से पहले समाजवादी पार्टी जॉइन रहे नेता, बढ़ रहा है कुनबा

बसपा द्वारा बुधवार को जारी एक बयान में कहा गया कि चुनावी आदि की तैयारी के सम्बन्ध में गत पांच फरवरी को शुरू की गईं मण्डल व किालावार समीक्षा बैठकों का पहला दौर आज समाप्त हो गया। इस दौरान उत्तर प्रदेश के सभी 18 मण्डल व 75 किालों के पार्टी पदाधिकारियों ने अपनी-अपनी कमेटी की गतिविधियों से संबंधित विस्तृत रिपोर्ट पार्टी प्रमुख को पेश की है।

टीएमसी के लिए एक बड़ा झटका, वरिष्ठ नेता दिनेश त्रिवेदी का पार्टी से इस्तीफा

बयान में कहा गया है कि इन समीक्षा बैठकों में बी.एस.पी. मूवमेन्ट के जन्मदाता व पार्टी संस्थापक कांशीराम की 15 मार्च को होने वाली जयंती से संबंधित कार्यक्रम पहले की तरह मनाने का फैसला लिया गया। मायावती ने मण्डल व किाला स्तरीय समीक्षा बैठकों में पंचायत व स्थानीय निकाय चुनाव से संबंधित पार्टी की तैयारियों की भी समीक्षा की। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में अगर ये चुनाव स्वतंत्र व निष्पक्ष ढंग से कराए गए तो आगामी विधानसभा चुनाव से पहले पूरे प्रदेश में केन्द्र व राज्य की सरकार के खिलाफ व्यापक जन असंतोष व जनाक्रोश देखने को मिलेगा।

 

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *