मशरूम बेचकर 1.5 लाख रुपये महीना कमा रही बिनिता, लोगों को भी दे रही हैं रोजगार

मणिपुर की बिनिता देवी
मणिपुर की बिनिता देवी

नई दिल्लीः कोरोना महामारी के बाद हर कोई पैसे कमाने के लिए नए नए तरीके ढूंढ रहा है. तो वहीं कई लोगों को इसमें कामयाबी भी मिल रही है. ऐसी ही एक कहानी है मणिपुर की रहने वाली बिनिता देवी की, जो मशरूम बेचकर हर महीने 1.5 लाख रुपए तक कमाती हैं, और स्थानीय लोगों को रोजगार देकर उनकी जिंदगी भी बदल रही हैं।

मणिपुर की बिनिता देवी
मणिपुर की बिनिता देवी

मशरूम बेचने का काम-

बता दें की बिनिता देवी मूलरूप से मणिपुर की राजधानी इंफाल में रहती हैं. बिनिता देवी काफी समय से मशरूम बेचने का काम कर रही हैं. जानकारी के अनुसार, बिनिता के मशरूम सेंटर में छह कमरे हैं. और एक कोल्ड स्टोरेज भी है. दो सोलर ड्रायर्स हैं के साथ-साथ एक नूडल मेकिंग मशीन है. बिनिता देवी ने बताया कि हम लोग छह तरह के मशरूम उगाते हैं. जिसे चिप्स और अचार के लिए बेचा जाता है।

5 रंगों के पानी के साथ बहती है ये रहस्यमयी नदी, दूर-दूर से देखने आते हैं लोग

लोगों को रोजगार-

बिनीता ने बताया कि मशरूम कल्टीवेशन में 50 रुपए तक खर्च होते हैं. जिसमें लेबर चार्ज, दवाइयां, शामिल हैं. कोरोना वायरस के कारण धंधा मंदा हो गया है. अभी हर महीने डेढ़ लाख रुपए तक की कमाई हो जाती है. उन्होंने कहा कि अभी उनके साथ 10 स्थानीय लोग काम करते हैं. लेकिन, जैसे-जैसे चीजें बढ़ेंगी लोगों को हायर किया जाएगा. बिनिता देवी के अनुसार, कोरोना वायरस से पहले उनका धंधा ठीक चल रहा था, लेकिन इस महामारी का असर उनके धंधे पर भी पड़ा लेकिन, जिस तरह बिनिता देवी इस काम को बढ़ा रही हैं और लोगों को रोजगार दे रही है उससे उनकी काफी तारीफ हो रही है।

 

Leave a comment

Your email address will not be published.