COVID-19 : भारत में दोबारा पैर पसार रहा है कोरोना, देखें विशेष UPDATES

भारत में कोरोना
भारत में कोरोना

नई दिल्ली : देश में एक बार फिर से कोरोना महामारी का कहर दिख रहा है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी रिपोर्ट के अनुसार पिछले 24 घंटे में कोरोना के 16 हजार 488 मामले सामने आए हैं। वहीं 113 लोगों की संक्रमण के कारण मौत हो गई है। देश में कुल संक्रमित होने वालों की संख्या 1,10,79,979। वहीं राहत की बात ये है कि 1,07,63,451 लोग कोरोना को मात देकर ठीक हो चुके हैं। अब तक 1,56,938 लोगों की कोरोना के कारण जा जा चुकी है। वहीं 1,59,590 लोगों का इलाज जारी है।

भारत में कोरोना
भारत में कोरोना

बढ़ती संक्रमण दर चिंता का विषय

दूसरी ओर देश में कोरोना टीकाकरण अभियान भी चालू है। अब तक देश भर में 1 करोड़ 42 लाख 42 हजार 547 लोग कोरोना का टीका लगवा चुके हैं। देश में कोरोना का रिकवरी रेट एक बार फिर से कम होता नजर आ रहा है। रिकवरी रेट घटकर 97.21 प्रतिशत पहुंच गया है। वहीं दूसरी ओर बढ़ रही संक्रमण दर चिंता का विषय बनी हुई है। कोरोना की संक्रमण दर देश में बढ़कर 1.37 प्रतिशत हो गई है। हालांकि मृत्युदर इस समय 1.42 प्रतिशत है।

देशभर में कोरोना एक बार फिर पसार रहा अपने पैर, जानें कहां क्या हालात

महाराष्ट्र राज्य में कोरोना सबसे अधिक प्रभावी

इस समय देश के महाराष्ट्र राज्य में कोरोना सबसे अधिक प्रभावी दिख रहा है। यहां पर शुक्रवार को 8333 नए मामले सामने आए और 48 लोगों की मौत हो गई। 4936 मरीजों का इलाज के बाद डिस्चार्ज कर दिया गया। राज्य का रिकवरी रेट 94.35% है। बढ़ते मामलों के बीच महाराष्ट्र सरकार के कैबिनेट मंत्री विजय वडेट्टीवार ने कहा है कि मुंबई की सहूलियत के लिए शुरू की गई लोकल ट्रेन सेवाओं में जल्द ही कटौती की जा सकती है। महाराष्ट्र सरकार कोरोना को रोकने के लिए जल्द ही राज्य में सभी सिनेमाघरों को बंद करने का भी फैसला ले सकती है।

महाराष्ट्र में कोरोना का कहर- स्कूली छात्र बने निशाना, सैकड़ों नए पॉजिटिव

दिल्ली में फिर से खराब हो सकती है स्थिति 

वहीं देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना के नए मामले लगातार बढ़ रहे हैं। लगातार चौथे दिन कोरोना के नए मामले में वृद्धि जारी रही। शुक्रवार को कोविड-19 के 256 नए मामले सामने आए जो 22 जनवरी के बाद 1 दिन में सबसे अधिक मामले हैं। 22 जनवरी को 266 मामले सामने आए थे। संक्रमण दर भी बढ़कर 0.41% हो गई है। बीमारी से 1 मौत भी हुई है। 1 दिन में 62768 लोगों की कोरोना जांच की गई। इसके साथ ही कोरोना रिकवरी दर घटकर अब 98 फीसदी हो गई है। सक्रिय मरीजों की संख्या बढ़कर 1231 हो गई है। जबकि 4 दिन पहले यह संख्या 1041 थी। ये आंकड़े दिल्ली के लिए चेतावनी की तरह है। अगर अब भी सख्ती नहीं बरती गई तो आने वाले दिनों में एक बार फिर से दिल्ली में स्थिति खराब हो सकती है।

 

Leave a comment

Your email address will not be published.