चीन की सेना वापसी के बाद आज इन इलाकों पर हो रही है हाई लेवल मिटींग

भारत और चीन
भारत और चीन

नई दिल्ली: भारत और चीन के बीच लद्दाख इलाके में नौ महीने से चल रहा लंबा विवाद सुलझने के बाद दोनों देश शनिवार यानी आज फिर बातचीत को राजी हुए है। भारत-चीन के कोर कमांडर लेवलके अधिकारियों के बीच डेपसांग, गोगरा और हॉट स्प्रिंग पर बातचीत होगी, जहां दोनों देशों की सेनाएं आमने-सामने हैं। बता दें की इस बीच चीन ने गलवान घाटी में हुए खूनी संघर्ष का एक वीडियो जारी कर प्रोपेगेंडा वार छेड़ दिया है।

 

भारत और चीन
भारत और चीन

मुद्दों को भटकाना चाहता है चीन-

जाहिर है की बातचीत के ठीक पहले चीन की हरकतें साफ संकेत दे रही हैं कि वह मुद्दों को भटकाना चाहता है, वह कोशिश कर रहा है कि बातचीत असल मुद्दों पर न हो और विवाद लंबा खिंच सके. चीन ने गलवान घाटी में संघर्ष का वीडियो जारी कर यह जताने की कोशिश है कि टकराव भारत की ओर से शुरू हुआ था।

चीन की सेना वापसी के बाद आज दोनों देशों के बीच इन इलाकों पर बातचीत, जानें

बातचीत का मुख्य एजेंडा-

भारत और चीन के कोर कमांडर स्तर के अधिकारियों की बातचीत शनिवार को सुबह दस बजे चुशूल के दूसरी ओर चीन के इलाके मोलडो में होगी. बातचीत का मुख्य एजेंडा गोगरा , हॉट स्प्रिंग और देपसांग इलाका होगा. जहां चीन ने यथास्थिति को बदलने की पिछले साल कोशिश की थी. लेकिन बातचीत से ठीक एक दिन पहले चीन ने गलवान घाटी में 15 जून को भारतीय सैनिकों के साथ हुए खूनी झड़प में पहली बार कबूला कि उसके चार सैनिक मारे गए थे।

चीन ने माना भारतीय सैनिकों ने उसके सैनिकों को उतारा था मौत के घाट

भारतीय जवानों को जिम्मेदार ठहराने की कोशिश-

चीन ने गलवान घाटी को लेकर एक वीडियो जारी कर उस दिन की हिंसा के लिए भारतीय जवानों को जिम्मेदार ठहराने की कोशिश की. इससे पहले सेना ने मंगलवार को वीडियो जारी कर दिखाया कि चीन की सेना पैंगोंग लेक से वापस लौटते दिख रही है. न केवल उसके टैंक पीछे हटते दिखे बल्कि जेसीबी मशीन से उसने अपने बंकर भी तोड़े. ऐसा कहीं पहली बार दिखा है कि चीन की सेना पीछे लौटती दिखी हो।

Leave a comment

Your email address will not be published.