फ्रांस में इस्लामिक कट्टरपंथ समाप्त, सरकार का होगा सख्त पहरा

फ्रांस में इस्लामिक कट्टरपंथ
फ्रांस में इस्लामिक कट्टरपंथ

नई दिल्ली: फ्रांस में इस्लामिक कट्टरपंथ को समाप्त करने के लिए सरकार कानून बनाकर सख्त पहरा लगाने की तैयारी कर रही है। इसके लिए फ्रांस की संसद के निचले सदन में एक बिल पेश किया गया है। यह बिल अगर कानून की शक्ल लेगा तो मस्जिदों और मदरसों पर सरकारी निगरानी बढ़ने के साथ ही बहु विवाह और जबरदस्ती शादी पर भी लगाम लगाई जा सकेगी।

फ्रांस में इस्लामिक कट्टरपंथ
इमैनुएल मैक्रों

दिल्ली स्पेशल: दिल्ली की बड़ी खबरें || Live News

फ्रांस में इस्लामिक कट्टरपंथ

बता दें की इस बिल को इस्लामिक चरमपंथ के खिलाफ बड़ी लड़ाई का हिस्सा माना जा रहा है। हाल ही में फ्रांस में इस्लामिक अत्यधिक देखने को मिला है। पिछले साल अक्टूबर को एक शिक्षक का सिर कलम कर हत्या करने के बाद फ्रांसीसी सरकार ने चरमपंथ पर लगाम लगाने का यह ताजा प्रयास किया। राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ने कहा है कि लैंगिक समानता और धर्मनिरपेक्षता जैसे फ्रांसीसी मूल्यों की रक्षा किया जाना बहुत जरुरी है। उन्होंने यह भी कहा कि कुछ समुदायों में बढ़ते कट्टरपंथ को रोकने के लिए भी यह जरूरी है।

फ्रांस में इस्लामिक कट्टरपंथ
Protest

पार्टी को बहुमत

वहीं, आलोचकों का कहना है कि अगले वर्ष होने वाले राष्ट्रपति चुनावों के मद्देनजर इस बिल को लाया जा रहा है। इसके माध्यम से रूढि़वादी और अति-दक्षिणपंथी मतदाताओं को रिझाने का प्रयास किया जा रहा है। चूंकि नेशनल असेंबली में मैंक्रो की पार्टी को बहुमत हालिस है, इसलिए यह बिल वहां से आसानी से पास्ड हो जाएगा। सीनेट से भी इसके पास होने की उम्मीद है।

Leave a comment

Your email address will not be published.