पश्चिम बंगाल चुनाव में अब नया मोड़, वाम दल ने बंद किया बंगाल

पश्चिम बंगाल चुनाव
पश्चिम बंगाल चुनाव

पश्चिम बंगाल: पश्चिम बंगाल में बहुत ही जल्द विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। इसमें सभी पार्टियां लगातार अपनी तैयारी करते नज़र आ रही हैं। अब इसी कड़ी में बीते गुरुवार को लेफ्ट फ्रंट के छात्रों और युवाओं ने रोजगार की मांग करते हुए सड़कों पर मार्च निकाला था।

पश्चिम बंगाल चुनाव

इस दौरन वाम छात्रों ने पुलिस पर आरोप लगाया है की उनके कार्यकर्ताओं की पिटाई के साथ-साथ उनपर वॉटर कैनन का भी इस्तेमाल किया गया है। अब इसके विरोध में वामदलों और कांग्रेस पार्टी ने शुक्रवार के दिन पूरे बंगाल में 12 घंटों के लिए बंद रखा है। इस बंद के दौरान वामपंथी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने पश्चिम बंगाल के कई ईलाकों के सड़कों और रेलवे ट्रैक को ब्लॉक कर दिया। बता दें कि लेफ्ट फ्रंट के चेयरमैन बिमन बोस ने जानकारी दी की “यह बंद सुबह छह बजे से शुरू होकर शाम को छह बजे तक रहेगा।”

पश्चिम बंगाल चुनाव
पश्चिम बंगाल चुनाव

पीरजादा अब्बास सिद्दीकी ने दिया समर्थन

इसी बीच नेता सुजान चक्रवर्ती ने कहा, “लोगों ने बंद के पक्ष में सहज प्रतिक्रिया दी है। स्कूली छात्रों को उनकी कक्षाओं में उपस्थित होने से नहीं रोका गया है। बता दें कि बंगाल में हो रहे बंद को भारतीय धर्मनिरपेक्ष मोर्चा के नेता पीरजादा अब्बास सिद्दीकी भी अपना समर्थन दे रहे हैं। जानकारी के मुताबीक लेफ्ट पार्टी और कांग्रेस ने सड़क को जाम कर दिया और साथ ही रेल बंद कर दिया गया है और तीन स्थानों पर टायर को भी जला दिया गया हैं। जब वाम कार्यकर्ताओं ने मोर्चे के दौरन बैरिकेड्स को तोड़ने की कोशिश की तब पुलिस ने उन पर लाठीचार्ज भी किया।

सिलिगुड़ी में शुरू हुई कक्षाएं

रोजगार की मांग कर रहे वामपंथी कार्यकर्ताओं का साथ और एक मजबूत रणनीति बनाते हुए सीपीआई (एम) के महासचिव सीताराम येचुरी ने टीएमसी सरकार पर निशाना साधा और कहा, “बंगाल के युवा दृढ़ संकल्पित हैं। यह रणनीति उन्हें पीछे नहीं धकेल सकती। प्रतिरोध और तेज होगा।” जहां एक तरफ 12 घंटों के लिए पूरे बंगाल को बंद कर दिया गया है। वहीं इसी बीच सिलिगुड़ी में कक्षा 9 से 12 तक के स्कूल फिर से शुरू होना वाली हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published.