नोएडा: खत्म होगा धरना, लोकशक्ति ने बुलाई किसान कोर कमेटी की बैठक

नोएडा
नोएडा

नोएडा: नोएडा, चिल्ला बार्डर पर धरना समाप्त करने के बाद अब सेक्टर-95 स्थित राष्ट्रीय दलित प्रेरणा स्थल पर भारतीय किसान यूनियन (लोकशक्ति) का धरना भी समाप्त हो सकता है। इसके संकेत मिलने लगे हैं। हालांकि संगठन पदाधिकारियों ने अभी स्थिति स्पष्ट नहीं की है, लेकिन इतना अवश्य पुष्टि की है कि बृहस्पतिवार की सुबह धरना स्थल पर कोर कमेटी की बैठक बुलाई है। इसमें आंदोलन की रणनीति पर चर्चा होगी कि आगे किसानों की मांग को लेकर कैसे संगठन आंदोलन को गति देगा।

नोएडा: जांच सरकार को करनी होगी

बैठक के बाद दोपहर में लोकशक्ति राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी मास्टर श्यौराज सिंह व महासचिव राजीव मलिक ने पत्रकार वार्ता कर स्थिति स्पष्ट करने की बात कही है। लोकशक्ति महासचिव राजीव मलिक ने बताया कि किसानों ने किसी भी प्रकार से नियमों का उल्लंघन नहीं किया है। जो रूट दिल्ली पुलिस प्रशासन ने ट्रैक्टर परेड के लिए तय किया था, उस रूट पर किसानों ने अनुशासन के साथ ट्रैक्टर परेड निकाली है। जिन्होंने दिल्ली में उपद्रव किया, वह किसान हो ही नहीं सकते। इसकी जांच सरकार को करनी होगी, ताकि दोषियों पर कार्रवाई हो सके।

नोएडा
नोएडा

बजट सत्र में बैठने की अनुमति दी जाए

लोकशक्ति राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी मास्टर श्यौराज सिंह ने कहा कि केंद्र सरकार से 500 किसानों को संसद में बजट सत्र के दौरान बैठने की अनुमति दी जाए। इस दौरान किसानों की ओर से यह देखा जाएगा कि उनकी मांगों को लेकर कौन-कौन से जनप्रतिनिधि रूचि दिखा रहे हैं। इसके बाद किसान खुद ही उनके भाग्य का फैसला कर देंगे। किसानों से बड़ी-बड़ी बातें कर इन जनप्रतिनिधियों ने कई वादे किए थे। आज किसान दिक्कत में है, तो ये वादे पूरे होने की बात तो दूर, जनप्रतिनिधि खुद भी नजर नहीं आ रहे हैं।

गणतंत्र के गुनहगार कौन? आंदोलन के नाम पर हिंसा, Delhi हुई खौफजदा

गौरतलब है की किसानों की मांगों को रेखांकित करने के लिए राष्ट्रीय राजधानी की सड़कों पर मंगलवार को निकाली गयी ट्रैक्टर परेड के दौरान हिंसा के कारण अराजक दृश्य पैदा हो गए. बड़ी संख्या में उग्र प्रदर्शनकारी बैरियर तोड़ते हुए लालकिला पहुंच गए और उसकी प्राचीर पर उस स्तंभ पर एक धार्मिक झंडा लगा दिया जहां भारत का तिरंगा फहराया जाता है. ट्रैक्टर परेड के दौरान दिल्ली का आईटीओ एक संघर्ष क्षेत्र की तरह दिख रहा था जहां गुस्साये प्रदर्शनकारी वाहनों को क्षतिग्रस्त करते हुए नजर आए.

नोएडा
नोएडा

Leave a comment

Your email address will not be published.