नोएडा पुलिस और माइक्रोसॉफ्ट के बीच करार, साइबर क्राइम के खिलाफ शिकंजा कसा

नोएडा पुलिस और माइक्रोसॉफ्ट
नोएडा पुलिस और माइक्रोसॉफ्ट

नई दिल्ली : साइबर क्राइम पर लगाम लगाने के लिए योगी सरकार ने एक बड़ा कदम उठाया है। नोएडा पुलिस ने माइक्रोसॉफ्ट इंडिया के साथ करार किया है। इस करार का मुख्य मकसद साइबर क्राइम के मामले में विश्वस्तरीय और अत्याधुनिक तकनीक उपलब्ध कराना है। बता दें कि पिछले हफ्ते ही नोएडा के पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह और माइक्रोसॉफ्ट इंडिया प्राइवेट लिमिटेड के अधिकारियों ने MOU पर दस्तखत किए।

नोएडा पुलिस और माइक्रोसॉफ्ट
नोएडा पुलिस और माइक्रोसॉफ्ट

किसान नेता Rakesh Tikait पर गाजीपुर थाने में दर्ज हुआ केस। FIR against Farmers

आधुनिक और सक्षम तकनीकों का इस्तेमाल-

वहीं, माइक्रोसॉफ्ट के साथ इस करार के बाद नोएडा पुलिस साइबर अपराधियों के खिलाफ प्रभावी कार्रवाई कर सकेगी। दोनों के बीच एमओयू पर हस्ताक्षर के साथ ही नोएडा पुलिस दुनिया के चुनिंदा पुलिस सिस्टम में शामिल हो गई है, जिनमें साइबर क्राइम से लड़ने के लिए आधुनिक और सक्षम तकनीकों का इस्तेमाल किया जाता है।

नोएडा पुलिस और माइक्रोसॉफ्ट
नोएडा पुलिस और माइक्रोसॉफ्ट

दिल्ली पुलिस के ज्वाइंट कमिश्नर के क्रेडिट कार्ड से 28 हजार गायब, जांच शुरू

डिजिटल पुलिसिंग को बढ़ावा-

पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि माइक्रोसॉफ्ट के साथ करार करने के पीछे मौजूदा व्यवस्था में सुधार करना है। उन्होंने ये भी बताया कि अब डिजिटल पुलिसिंग को बढ़ावा दिया जाएगा और सेंटर ऑफ एक्सीलेंस स्थापित किया जाएगा। बता दें कि पुलिस को माइक्रोसॉफ्ट तकनीकी सहायता और सेवाएं प्रदान करेगी। इस करार का उद्देश्य पुलिस टीम के लिए समाधान और जानकारी उपलब्ध कराना है।

Leave a comment

Your email address will not be published.