अगले दो दिनों में समूचे उत्तर भारत में छा जायेगा मानसून

Delhi Monsoon Coming
Delhi Monsoon Coming

नई दिल्ली : उमस भरी गर्मी से जूझ रहे दिल्‍लीवासियों के लिए अच्‍छी खबर है। राजधानी में इस बार समय से पहले मानसून आएगा। यह सामान्य तारीख से 15 दिन पहले दस्तक दे सकता है। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने दी जानकारी .

आईएमडी के क्षेत्रीय पूर्वानुमान केंद्र के प्रमुख कुलदीप श्रीवास्तव ने बताया कि इससे पहले एक बार 2008 में भी मानसून 15 जून को दिल्ली पहुंचा था। उन्होंने कहा, ‘मानसून’ के समय से पहले आने की अनुकूल परिस्थितियां बनी हुई हैं। इस बार यह (मानसून) 15 जून को दिल्ली पहुंच सकता है।

Monsoon
Monsoon

आईएमडी ने बताया कि उत्तरपश्चिम बंगाल की खाड़ी पर कम दबाव का क्षेत्र बना हुआ है। इसके अगले तीन से चार दिन में ओडिशा, झारखंड और उत्तर छत्तीसगढ़ की ओर बढ़ने की संभावना है।

मौसम विभाग के अनुसार पुरे उतार भारत में मानसून इस बार 15 दिन पहले ही पहुंच जायेगा। इसके साथ ही मौसम विभाग के माने तो अनुकूल मौसमी परिस्थियों के चलते अगले चार दिन में दक्षिण पश्चिमी मानसून के दक्षिण राजस्थान और गुजरात के कच्छ को छोड़ कर पूरे देश में छाने की उमीद लगाई जा रही है।

Mausam Vibhag
Mausam Vibhag

मौसन विभाग के अनुसार मानसून ने इस रविवार को उत्तर भारत में दस्तक दे दी है। यहाँ बिहार के सीमावर्ती इलाको में अच्छी बारिश होने की सम्भावना है। एक से दो दिन में पूरे प्रदेश में बारिश होने की पूरी सम्भावना बानी हुई है। वही मध्य प्रदेश में दक्षिण पश्चिमी मानसून सात दिन पहले पहुंच गया है। साथ ही जबलपुर और शहडोल संभाग के जिलों के लिए अलर्ट जारी कर दिया है।

यह भी पढ़े : यमुना एक्सप्रेस वे पर मंगलवार से शुरू होगा फास्टैग, आज हो रहा है ट्रायल

क्‍यों है मानसून के जल्‍द आने की उम्‍मीद ?

आईएमडी ने कहा, ‘अनुकूल मौसमी परिस्थितियों की वजह से दक्षिण पश्चिमी मानसून के अगले पांच से छह दिन के दौरान दक्षिण राजस्थान और गुजरात के कच्छ क्षेत्र को छोड़कर पूरे देश में भारी बादल छा  जाने की उम्मीद है।

श्रीवास्तव ने कहा कि किसी इलाके में मॉनसून के आने की घोषणा करने के लिए मोटे तौर पर तीन तथ्यों पर विचार किया जाता है। इसमें पहला विस्तृत क्षेत्र में बारिश, दूसरा अगले तीन -चार दिन बारिश की संभावना और तीसरा पूर्वी हवाएं हैं।

निजी मौसम पूर्वानुमान एजेंसी स्काईमेट वेदर के महेश पलावत के मुताबिक वर्ष 2013 में मॉनूसन 16 जून तक देश के सभी हिस्सों तक पहुंच गया था। जहां पिछले साल 2020 को 29 जून तक पूरे देश में मॉनसून पहुंचा था।

आने वाले समय में कैसा रहेगा राजधानी का मौसम ?

आईएमडी ने बताया है कि राजधानी में शनिवार को आसमान में बादल छाए रहने और झोंके वाली हवा के साथ हल्की या मध्यम बारिश की संभावना है। वहीं, अधिकतम तापमान 37 डिग्री सेल्सियस और न्‍यूनतम 24 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया जा सकता है।

Delhi Rain
Delhi Rain

राष्ट्रीय राजधानी के लोगों ने शनिवार को उमस भरी गर्मी का सामना किया।   जिसे साथ अधिकतम तापमान 39 डिग्री सेल्सियस रहा, जो मौसम के औसत तापमान से एक डिग्री सेल्सियस कम है।

वहीं नमी के स्तर की बात करें तो नमी का स्तर 91 से 47 फीसदी तक दर्ज किया गया है। सफदरजंग वेधशाला ने बताया कि गुरुवार देर रात बारिश होने से तापमान कम हो गया और रविवार सुबह न्यूनतम तापमान 223.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो कि इस मौसम के औसत से आठ डिग्री कम है।

https://www.youtube.com/watch?v=AsdtTRNKmds