दिल्ली में बढते प्रदूषण के बीच कैसे करें अपने फेफडों का बचाव, जानें ये 5 तरीके

प्रदूषण के बीच कैसे करे अपने फेफड़ों का बचाव
प्रदूषण के बीच कैसे करे अपने फेफड़ों का बचाव

नई दिल्ली । कोरोना महामारी के बीच दिल्ली-एनसीआर में वायु प्रदूषित होती जा रही है। देश में लगाए गए लॉकडाउन में अब बहुत सारी गतिविधियों शुरू हो गई हैं। सड़कों पर वाहन पहले की ही तरह दौड़ने लगे हैं ओर औद्याोगिक व्यापार भी शुरू हो गया है। ऐसे में एक बार फिर से प्रदूषण बढ़ने लगा है। यहां की हवा इतनी खराब हो चुकी है कि लोगों का सांस लेने में काफी दिक्कत होने लगाी है। किये गए शोध अध्ययनों के अनुसार बढ़ता प्रदूषण कोरोना संक्रमण का स्तर भी बढ़ा सकता है। इससे लोग आंखों की समस्या, सांस संबंधी परेशानी और अन्य बीमारियों का भी शिकार हो सकते हैं। वहीं, पहले से ही दिल की बीमारी, सांस संबंधी समस्याओं से गुजर रहे लोगों के लिए वायु प्रदूषण दिक्कतें और अधिक बढ़ा सकता है।

प्रदूषण के बीच कैसे करे अपने फेफड़ों का बचाव
प्रदूषण के बीच कैसे करे अपने फेफड़ों का बचाव

UP Weather Alert: यूपी में शीतलहर का प्रकोप, जारी रहेगा ठंड का सितम

प्रदूषण के लिए मास्क का उपयोग-

प्रदूषण से बचने के लिए भी हमेशा मास्क का इस्तेमाल करें। ऐसा मास्क पहनें, जो हवा में मौजूद आद्रशिय कणों को आपके नाक या मुंह से प्रवेश करने से रोके। इससे फेफड़ों को भी नुकसान नहीं होगा।

प्रदूषण के बीच कैसे करे अपने फेफड़ों का बचाव
प्रदूषण के बीच कैसे करे अपने फेफड़ों का बचाव

Delhi Gang Rape Case : दिल्ली प्रदुषण का जिक्र कर दोषी ने की माफ़ी की अपील 

सांस के मरीज –

अस्थमा, सांस संबंधी या अन्य फड़ों की बीमारी वाले लोगों को अपने साथ डॉक्टर द्वारा बताए गए मेडिकल टी्टमेंट को हमेशा साथ रखना चाहिए। नियमित तौर पर इसका इस्तेमाल करना चाहिए ताकि किसी तरह की तकलीफ न बढ़े।

प्रदूषण के बीच कैसे करे अपने फेफड़ों का बचाव
प्रदूषण के बीच कैसे करे अपने फेफड़ों का बचाव

प्रदूषित इलाको से बचे-

ऐसी जगहों पर जाने से बचें, जहां प्रदूषण का स्तर बहुत ज्यादा होता है। जैसे- व्यस्त सड़कों, फैक्ट्रियों वाले इलाके, मिल या चिमनी भट्टी वाले इलाके आदि। ऐसी जगहों पर प्रदूषण ज्यादा रहता है, इसलिए वहां जाने से बचें। ऐसी जगाहो कि हवा सीधे हमारे फेफडों मे पहुँचती है जो हमारे स्वसथ के लिये हानिकारक है।

प्रदूषण के बीच कैसे करे अपने फेफड़ों का बचाव
प्रदूषण के बीच कैसे करे अपने फेफड़ों का बचाव

फेफड़ों के लिए डाइट फू़ड-

तुलसी व अदरक फेफड़े में विटामिन, विटामिन सी और कैम्फीन पाया जाता हे, तुलसी जैसे यौगिकों का उपयोग फेफड़ों के संक्रमण और क्षति के इलाज के लिए किया जाता है । यह वायु प्रदूषण से सुरक्षा के लिए एक अनोखा उपाय है और वहीं अदरक को लंबे समय से खांसी और सर्दी के लक्षणों को दूर करने की अपनी क्षमता के लिए उपयोग किया जाता है यह हमारे फेफड़ों को मजबूत करने में बहुत प्रभावी माना जाता है।

प्रदूषण के बीच कैसे करे अपने फेफड़ों का बचाव
प्रदूषण के बीच कैसे करे अपने फेफड़ों का बचाव

प्रदूषण में योगा लाभकारी

फेफड़ों को स्वसथ रखने के लिए योग सबसे अच्छा तरीकों में से एक है योगा आपके पूर्ण स्वास्थ्य के लिए लाभकारी माना जाता है फेफड़ों का हमारी सांस से सीधा संबंध है बिना फेफड़ों के हमारा सांस लेना मुमकिन नहीं है ऐसे में स्वसथ फेफड़ों के लिए योगा काफी लाभदायक हो सकता है ।

 

 

 

 

 

 

Leave a comment

Your email address will not be published.