थ्री इडियट वाले सोनम वांगचुक ने भारतीय सेना को दिया ये खास तौहफा

थ्री इडियट वाले सोनम वांगचुक
थ्री इडियट वाले सोनम वांगचुक

नई दिल्लीआमिर खान की थ्री इडियट मूवी तो आप सबने देखी ही होगी, मूवी में अभिनेता आमिर खान ने जिनका किरदार निभाया था, यानी रेमन मेग्सेसे अवार्ड से सम्मानित भारतीय इंजीनियर सोनम वांगचुक, उन्होने भारतीय जवानों के लिए एक बहुत ही अहम तौहफा तैयार किया है।

थ्री इडियट वाले सोनम वांगचुक
थ्री इडियट वाले सोनम वांगचुक

जी हां दरअसल, सोनम वांगचुक ने एक अनौखा हीटिंग टेंट बनाया है.वहीं इन हीटिंग टेंट का लाभ देश के उन जवानों को मिलेगा जो लद्दाख सियाचिन सीमा पर हाड़ कंपा देने वाली सर्दी के बीच हर पल तैनात रहते हैं और देश के लिए अपना सब कुछ दाव पर लगा देते हैं. तो वहीं वांगचुक ने कैंप की कुछ तस्वीरें सोशल मीडिया पर शेयर की हैजिसके बाद यूजर्स भी उनकी काफी तारीफ और सच्चा देशभक्त कह रहे हैं।

UP Budget : मोबाईल ऐप पर उपलब्ध है योगी सरकार के बजट की सम्पूर्ण जानकारी

सैनिकों को ठंड से बचाव-

बता दें कि माइनस 30 डिग्री सेल्सियस के बीच भारतीय जवान सरहद पर तैनात रहते हैं. सैनिकों को ठंड से बचाव के लिए भारी-भारी जूते और कपड़े पहनने पड़ते हैं. इसके बाद भी यहां पर तैनात जवानों को डीजल, मिट्टी का तेल या फिर लकड़ी जलाने पर ही निर्भर रहना पड़ता है. इसकी वजह से प्रदूषण तो होता ही है साथ ही साथ ये कम प्रभावी भी होता है. जिसके कारण जवानों को काफी असुविधाओं का सामना करना पड़ता है. वहीं सोनम वांगचुक ने ट्वीट में बताया रात के 10 बजे जहां बाहर का तापमान -14°C था, टेंट के अंदर का तापमान +15°C था. यानी टेंट के बाहर के तापमान से टेंट के भीतर का तापमान 29°C ज्यादा था।

थ्री इडियट वाले सोनम वांगचुक
थ्री इडियट वाले सोनम वांगचुक

यहां माता की मूर्ति दिन में तीन बार बदलती है अपना रूप, पढ़ें हैरान कर देने वाली खबर

हीटेड मिलिट्री टेंट-

इस टेंट के अंदर भारतीय सेना के जवानों को लद्दाख की सर्द रातें गुजारने में काफी आसानी होगी। इस सोलर हीटेड मिलिट्री टेंट की खासियत यह है कि यह सौर ऊर्जा की मदद से काम करता है।आपको बता दें कि इस विशेष टेंट के अंदर करीब 10 लोग आराम से रह सकते हैं. इतना ही नहीं ये पोर्टेबल भी है.. यानी कि पूरा टेंट उखाड़कर आसानी से कहीं भी ले जाया जा सकता है. साथ ही वजन की बात करें तो एक टेंट का वजन 30 किलो से भी कम है. ये टेंट पूरी तरह मेड इन इंडिया है. उन्होंने यह टेंट लद्दाख में रहकर ही बनाया है।

Leave a comment

Your email address will not be published.