मजदूरों के लिए यह नई योजनाएं शुरू कर रही है योगी सरकार, पढ़े विस्तृत रिपोर्ट

schemes for labour workers
schemes for labour workers

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश की श्रम कल्याण परिषद के अध्यक्ष सुनील भराला ने गुरुवार को कहा कि प्रदेश में श्रमिकों के लिए तीन कल्याणकारी योजनाएं फरवरी, 2021 से क्रियान्वयन में आ जाएंगी। उत्तर प्रदेश सरकार ने प्रदेश में मजदूरों के लिए तीन नई कल्याणकारी योजनाएं शुरू की है, जो 1 फरवरी से लागू हो रही हैं।

तीन नई योजनाएं
तीन नई योजनाएं

Polio Drops Date 2021 : Uttar Pradesh के सभी जिलों में आज से शुरू पोलियो अभियान ||

तीन कल्याणकारी योजनाएं-

बताया गया कि श्रमिक परिवारों के बच्चों के लिए चेतन चौहान खेल प्रोत्साहन कल्याण योजना के तहत जनपद में खेलने वाले खिलाड़ी को 25,000 रुपए, राज्य स्तर पर खिलाड़ियों को 50,000 रुपए, राष्ट्रीय स्तर पर खेलने वाले खिलाड़ियों को 75,000 रुपए और विश्व स्तर पर खेलने वाले खिलाड़ियों को एक लाख रुपए प्रोत्साहन राशि दी जाएगी। उन्होंने बताया कि दूसरी योजना धार्मिक और पर्यटन यात्रा के लिए है। इसके तहत, श्रमिक के परिवारों को धार्मिक यात्रा के लिए सीधे श्रमिक के खाते में 12,500 रुपए डाले जाएंगे जिससे श्रमिक अपने परिवार के साथ तीर्थयात्रा कर सकें। भराला ने बताया कि तीसरी योजना श्रमिक के बच्चों को निःशुल्क पुस्तकें देने की है।

तीन नई योजनाएं
तीन नई योजनाएं

श्रमिकों का वेतन-

इसके अलावा उन्होंने कहा की, श्रमिकों का वेतन 15,000 रुपए से बढ़ाकर 24,000 रुपए करने का प्रस्ताव श्रम कल्याण परिषद ने बढाने का सोचा वर्तमान में प्रतिमाह 15,000 रुपए तक का वेतन पाने वाले श्रमिक इन योजनाओं का लाभ उठाने के पात्र है उन्होंने कहा कि प्रदेश में बाल श्रमिकों से काम कराने पर रोक के लिए प्रदेश सरकार एक अभियान चलाएगी। श्रम कल्याण परिषद को प्रदेश में जगह-जगह पर बाल श्रमिकों से काम लिए जाने की शिकायतें मिली हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published.