डिप्टी जेलर की हत्या के आरोपी को पुलिस ने मुठभेड़ में किया ढ़ेर

एसटीएफ ने की मुठभेड़
एसटीएफ ने की मुठभेड़

नई दिल्ली : प्रयागराज के मुन्ना बजरंगी और दिलीप मिश्रा गैंग के दो शार्प शूटर्स को एसटीएफ ने मुठभेड़ में मार दिया है। एसटीएफ के साथ हुई मुठभेड़ में पचास हजार के इनामी राजीव पाण्डेय और उसका साथी एचएस अमजद मारा गिराया गया है ।

STF
STF

प्रयागराज के नैनी थाना क्षेत्र के अरैल इलाके में पुलिस ने मुठभेड़ को आंजाम दिया है। दोनों के कब्जे से नाइन एमएम पिस्टल, 30 जिंदा कारतूस और कई खोखे बरामद किये है ।

हत्या का आरोप

दोनों आरोपी पर वर्ष 2013 में हुए वाराणसी के डिप्टी जेलर अनिल कुमार त्यागी की हत्या का आरोप है। माफिया मुख्तार अंसारी और मुन्ना बजरंगी के इशारे पर दोनों ने इस हत्या को आंजाम दिया था। मुठभेड़ में ढ़ेर हुए दोनों बदमाशों का पहले से ही आपराधिक इतिहास रहा है। पिछले वर्ष भदोही के बाहुबली विधायक विजय मिश्रा ने भी राजीव पाण्डेय से खुद की जान का खतरा होने की बात कही थी।

लखनऊ- एटीएस ने किया रोहिंग्या गिरोह का भांडाफोड़, दो गिरफ्तार

मारने की सुपारी

एसटीएफ ने बताया कि दोनों बदमाश प्रयागराज वारदात को अंजाम देने जा रहे थे। मुखबिर से मिली सूचना के बाद एसटीएफ ने उसकी घेराबंदी की थी। एक सर्च आभियान में जब एसटीएफ ने घेराबंदी की, उसके बाद उसने फायरिंग शुरू कर दी। दोनो की जवाबी फायरिंग में पुलिस ने दोनों को मार गिराया। पुलिस ने बताया कि दोनों ने रांची के किसी जेल के अधिकारी को मारने की सुपारी ली थी। उसके बाद प्रयागराज में दोनों किसी राजनीतिक व्यक्ति की हत्या करने के लिए पहुंचे थे।

Leave a comment

Your email address will not be published.