SC ने किसानो के ट्रैक्टर मार्च विरोधी याचिका पर लगाई रोक, दिल्ली पुलिस पर छोड़ा फैसला

farmer protest on 26 january
farmer protest on 26 january

नई दिल्ली : 26 जनवरी गणतंत्र दिवस के मौके पर किसानों द्वारा ट्रैक्टर मार्च निकालने वाले मामले पर बुधवार को फिर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई ,उच्च अदालत ने इस विवाद में दखल देने से इनकार किया और इसका फैसला दिल्ली पुलिस पर छोड़ा। इसके अलावा सुप्रीम कोर्ट के द्वारा लगातार कमेटी पर उठ रहे सवालों पर नाराजगी को भी व्यक्त किया।

Tandav पर बवाल: Mumbai पंहुची UP POLICE Team || 

Farmer protest on 26 January
Farmer protest on 26 January

बुधवार को सुनवाई के दौरान –

चीफ जस्टिस ने बुधवार को सुनवाई के दौरान कहा कि हम ट्रैक्टर रैली को लेकर कोई फैसला नहीं सुनाएंगे, कोर्ट किसी रैली को रोके ये बिल्कुल ठीक नहीं है। उनहोंने दिल्ली पुलिस को ही इस पर फैसला लेने को कहा। सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार से ट्रैक्टर मार्च के खिलाफ लगाई याचिका को वापस लेने के लिए भी कहा।

गणतंत्र दिवस को लेकर दिल्ली में हाई अलर्ट, लगे खालिस्तानी आतंकियों के पोस्टर

Farmer protest on 26 January
Farmer protest on 26 January

किसान नेता राकेश टिकैत का बयान –

ट्रैक्टर रैली को लेकर ही किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा है कि हम दिल्ली में ट्रैक्टर रैली निकालकर रहेंगे। दिल्ली भी किसानों की है और और गणतंत्र दिवस भी किसानों का हि है। राकेश टिकैत बोले कि पुलिस हमें क्यों रोकेगी, हम ट्रैक्टरों पर आ रहे हैं और किसी को नुकसान नहीं पहुंचाएंगे। उनका ये भी कहना था कि कि सरकार को एमएसपी पर कानून पड़ेगा और तीनों कानून को वापस लेना पड़ेगा, हमारा आंदोलन सरकार के खिलाफ है।

किसान आंदोलन में पड़ी फूट, नेता उलझे आपसी विवाद में

खेती से जुड़े बिंदुओं को देश के सामने रखना –

ट्रैक्टर रैली को लेकर किसानों ने पूर्व सैनिकों से भी सलाह ली है, ताकि गणतंत्र दिवस के मौके पर ट्रैक्टर रैली को निकाला जा सके। इस दौरान किसान अपनी रैली में खेती से जुड़े बिंदुओं को देश के सामने रखेंगे। इस रैली में पूर्व सैनिक, खिलाड़ी भी हिस्सा लेंगे, साथ ही जिन किसानों ने आंदोलन के दौरान अपनी जान गंवाई है, उनको भी यहां नमन किया जाएगा।

Leave a comment

Your email address will not be published.