टीकाकरण फर्जीवाड़े के खिलाफ NHA का बड़ा फैसला, OTP को किया अनिवार्य

टीकाकरण फर्जीवाड़े को रोकने के लिए OTP को किया अनिवार्य
टीकाकरण फर्जीवाड़े को रोकने के लिए OTP को किया अनिवार्य

नई दिल्ली : देश में बढ़ रहे कोरोना संकट को रोकने के लिए वैक्सीनेशन प्रकिया भी काफी तेजी से चल रही है। हालांकि इस प्रकिया के दौरान कई राज्यों से फर्जीवाड़े की खबरें भी निकलकर सामने आ रही हैं। जिसमें बिना वैक्सीन लगावाए मोबाइल पर टीका लगा हुआ दिखाई दे रहा है।

टीकाकरण फर्जीवाड़े को रोकने के लिए OTP को किया अनिवार्य
टीकाकरण फर्जीवाड़े को रोकने के लिए OTP को किया अनिवार्य

जानिए क्या है पूरा मामला

देश में चल रहे टीकाकरण अभियान को संभाल रहे नेशनल हेल्थ अथारिटी के एक वरिष्ठ अधिकारी का कहना है कि पिइले हफ्ते कई ऐसे लोगों को वैक्सीन लगने का मैसेज आया है जो अभी तक वैक्सीनेशन सेंटर पर गए ही नहीं हैं। जब ऐसी धोखाधड़ी के बारे में नेशनल हेल्थ अथारिटी को पता चला तो कई लोग ऐसे हैं जिन्होंने ऑनलाइन वैक्सीनेशन के लिए रजिस्टेशन तो किया था लेकिन किसी कारण वो वैक्सीन लेने नहीं पहुंचे। जिसके बाद भी उनके फोन पर मैसेज आया कि उनको टीका लग गया है। इस मुश्किल घड़ी में हो रही धोखाधड़ी को रोकने के लिए नेशनल हेल्थ अथारिटी ने एक अहम कदम उठाया है।

Corona Third Wave कोरोना की तीसरी लहर को रोकने के लिए इन बातों का रखें ध्यान

टीकाकरण फर्जीवाड़े को रोकने के लिए OTP को किया अनिवार्य
टीकाकरण फर्जीवाड़े को रोकने के लिए OTP को किया अनिवार्य

टीकाकरण फर्जीवाड़े पर लगेगी रोक

नेशनल हेल्थ अथारिटी के अनुसार अब जब कोई भी वैक्सीनेशन के लिए रजिस्ट्रेशन कराएगा तो उसके मोबाइल फोन पर एक ओटीपी आएगा। अब उस ओटीपी को उस मरीज को उस वक्त भी कोविड़ सेंटर पर बताना होगा जब उसे वैक्सीन लगेगी। उसके बाद ही उसे वैक्सीनेशन का सार्टिफिकेट मिल पाएगा।

Corona Vaccine : कोविशील्ड और कोवैक्सीन में क्या है अलग, जानें अंतर विस्तार से

टीकाकरण फर्जीवाड़े को रोकने के लिए OTP को किया अनिवार्य
टीकाकरण फर्जीवाड़े को रोकने के लिए OTP को किया अनिवार्य

ये हो सकता है धोखधड़ी करने वालों का प्लान

आपको बता दें कि नेशनल हेल्थ अथारिटी को आशंका है कि जो भी लोग वैक्सीन को लेकर घपला कर रहै हैं शायद वो उस वैक्सीन को प्राइवेट अस्पताल में बेच दे रहे हैं। बता दें कि 18 से 44 साल के लोगों के लिए प्रति डोज कोविशील्ड 300 रुपये और कोवैक्सीन 400 रुपये में मिल रही है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *