छत्तीसगढ़: पिता के फोन छुपाने से गुस्साई लड़की ने पीट-पीटकर कर दी हत्या

छत्तीसगढ़
छत्तीसगढ़

बिलासपुर: छत्तीसगढ़ के बिलासपुर जिले में एक ऐसा मामला सामने आया है जहां पिता के मोबाइल फोन छुपाने से नाराज लड़की ने पिता को लाठी से पीट-पीटकर मार डाला और मां के साथ मिलकर शव को दफना दिया। पुलिस ने मां-बेटी को गिरफ्तार कर लिया है। बिलासपुर जिले के पुलिस अधिकारियों ने मंगलवार को बताया कि जिले के कोटा थाना क्षेत्र के अंतर्गत कंचनपुर गांव में मंगलूराम धनवार (58) की हत्या के आरोप में पुलिस ने मंगलूराम की बेटी दिव्या (28) और उसकी पत्नी के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस ने दोनों महिलाओं को गिरफ्तार कर लिया है।

छत्तीसगढ़

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि शुरुआती जांच में पता चला है कि दिव्या ने अपने पिता की मर्जी के खिलाफ शादी की थी जिससे उसके पिता नाराज रहते थे। उन्होंने बताया कि इस महीने की 23 तारीख को दिव्या अपने मायके आई थी। दूसरे दिन 24 जनवरी को दिव्या को उसका मोबाइल फोन नहीं दिखा तब उसने अपने पिता से इस संबंध में पूछताछ की, लेकिन पिता मंगलूराम ने गोलमोल जवाब दिया। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि मोबाइल फोन नहीं मिलने से नाराज दिव्या दिन भर अपने पिता से झगड़ती रही तब उसके पिता ने उसे बताया कि अपनी मर्जी से शादी करने के कारण वह उससे नाराज है और उसने मोबाइल छिपा दिया है।

पड़ोसियों से भी मारपीट की

उन्होंने बताया कि इसके बाद नाराज दिव्या ने लाठी से पिता की पिटाई शुरू कर दी। जब शोर सुनकर पड़ोसी वहां पहुंचे तब दिव्या ने पड़ोसियों से भी मारपीट की। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि जब पड़ोसी वहां से चले गए तब भी दिव्या अपने पिता की पिटाई करती रही और बाद में मंगलूराम के सर पर पत्थर से कई वार भी कर दिये। इससे मंगलूराम की मौके पर ही मौत हो गई।

मां बेटी को गिरफ्तार कर लिया

उन्होंने बताया कि पिता की मृत्यु के बाद बेटी दिव्या और उसकी मां ने मंगलूराम के शव को आंगन के समीप एक गड्ढे में दफना दिया और वहां से फरार हो गए। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि घटना के एक दिन बाद 25 जनवरी को एक ग्रामीण ने पुलिस को घटना की जानकारी दी तब पुलिस दल को घटनास्थल के लिए रवाना किया गया। उन्होंने बताया कि पुलिस ने शव बरामद कर लिया तथा महिलाओं की खोज शुरू की गई। पुलिस ने मंगलवार को आरोपी मां बेटी को गिरफ्तार कर लिया है।

चौरी-चौरा महोत्सव की होगी शुरुआत, PM Modi जारी करेंगे डाक टिकट

Leave a comment

Your email address will not be published.