गाजीपुर से दिल्ली जाने वाला मेरठ एक्सप्रेस-वे सुरक्षा कारणों से हुआ बंद

गाजीपुर से दिल्ली जाने वाला मेरठ एक्सप्रेस-वे सुरक्षा कारणों से हुआ बंद
गाजीपुर से दिल्ली जाने वाला मेरठ एक्सप्रेस-वे सुरक्षा कारणों से हुआ बंद

नई दिल्ली : दिल्ली की सीमाओं पर नए कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का आंदोलन दो माह से अनवरत रूप से जारी है। वहीं आज केंद्र सरकार बजट पेश करने जा रही है। गाजीपुर में किसानों की भीड़ को देखते हुए सुरक्षा कारणों से दिल्ली गाजीपुर से दिल्ली की ओर जाने वाले मेरठ एक्सप्रेस-वे को बंद कर दिया गया है।

गाजीपुर से दिल्ली जाने वाला मेरठ एक्सप्रेस-वे सुरक्षा कारणों से हुआ बंद
गाजीपुर से दिल्ली जाने वाला मेरठ एक्सप्रेस-वे सुरक्षा कारणों से हुआ बंद

Finance Minister Nirmala Sitharaman आज पेश करेंगी देश का आम बजट

दरअसल, किसान किसी भी प्रकार से राजधानी में एंट्री न लें सकें इसलिए दिल्ली जाने वाले मुख्य रास्तों को बंद कर दिया गया है। ऐसे में राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र से दिल्ली आने वालों को दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है। सराय काले खां-प्रगति मैदान से अक्षरधाम-गाजीपुर जाने वाले रास्ते पर बसों को रोका गया है। वहीं गाजीपुर से अक्षरधाम होते हुए प्रगति मैदान की ओर जाने वाले मार्ग पर बैरिकेड्स लगा दिए गए हैं। वहीं गाजीपुर बॉर्डर पर जहां किसान धरना दे रहे हैं वहां 12 लेयर की सुरक्षा लगाते हुए उसे किले में तब्दील कर दिया गया है। 26 जनवरी को हुई हिंसा फिर से न दोहराई जा सके इसे देखते हुई भारी संख्या में सुरक्षा बल की तैनाती की गई है।

Weather Update: दिल्ली में 3 दिन हल्की बारिश के आसार, पढ़े रिपोर्ट

12 लेयर की सुरक्षा

वहीं गाजीपुर बॉर्डर पर जहां किसान धरना दे रहे हैं वहां 12 लेयर की सुरक्षा लगाते हुए उसे किले में तब्दील कर दिया गया है। 26 जनवरी को हुई हिंसा फिर से न दोहराई जा सके इसे देखते हुई भारी संख्या में सुरक्षा बल की तैनाती की गई है। पुलिस को मिली खुफिया जानकारी के तहत गाजीपुर में बैठे किसान आज संसद की ओर कूच कर सकते हैं। इसीलिए NH24 के हाईवे की सभी लाइनों को 12 लेयर में बैरिकेड लगाकर सुरक्षा बढ़ा दी गई है।

गाजीपुर से दिल्ली जाने वाला मेरठ एक्सप्रेस-वे सुरक्षा कारणों से हुआ बंद
गाजीपुर से दिल्ली जाने वाला मेरठ एक्सप्रेस-वे सुरक्षा कारणों से हुआ बंद

दिल्ली सरकार का बड़ा फैसला, 9वीं से 11वीं की कक्षाओं के लिए इस दिन से खुलेंगे स्कूल

दिल्ली के इन तीन इलाकों में बैरिकेडिंग

बैरिकेडिंग के तौर पर पहली रोक गाजीपुर में तो दूसरी रोक मयूर विहार तीसरी बैरिकेडिंग यमुना पुल के पास की गई है। यमुना पुल के पास की बैरिकेडिंग पूरी तरह से अभेद्य है। जिसे ट्रैकटर से भी नहीं तोड़ा जा सकता। इसके अलावा इस मार्ग पर दिल्ली पुलिस और अर्धसैनिक बलों को बड़ी संख्या में तैनात किया गया है।

गाजीपुर से दिल्ली जाने वाला मेरठ एक्सप्रेस-वे सुरक्षा कारणों से हुआ बंद
गाजीपुर से दिल्ली जाने वाला मेरठ एक्सप्रेस-वे सुरक्षा कारणों से हुआ बंद

दिल्ली पुलिस करेगी जब्त उपद्रवियों के ट्रेक्टर और गाड़ियां, भेजा नोटिस

भारी संख्या में सुरक्षा बल तैनात

गाजीपुर बंद होने के चलते राहगीरों को दिक्कतों का सामना भी करना पड़ रहा है। यहां बॉर्डर पर आंदोलनकारी, पुलिस और सुरक्षाबलों के अलावा कुछ नजर नहीं आ रहा है। हालांकि इस इनपुट्स के बाद सेंट्रल और नई दिल्ली जिलों की पुलिस के अलावा बड़ी तादाद मे अतिरिक्त सुरक्षा बल की तैनाती की गई है। जबकि करीब 5 से 6 हजार पुलिसकर्मी बंदोबस्त में लगे हुए हैं। दोनों जिलों से कॉन्स्टेबल से लेकर सब इंस्पेक्टर रैंक तक के 1796 पुलिसकर्मी भी तैनात किए गए हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published.