पूर्व सैनिक: गणतंत्र दिवस पर प्रदर्शन सेना का अपमान होगा

गणतंत्र दिवस
गणतंत्र दिवस

नई दिल्लीः रेवाड़ी जिला के गांव राजियाका में भूतपूर्व सैनिक लीग की बैठक आयोजित की गयी. बैठक में पूर्व सैनिकों ने कहा की आंदोलनकारियों द्वारा अगर गणतंत्र दिवस की परेड में कोई विघन डाला गया तो निश्चित तौर पर यह देश की सेना का अपमान होगा। यहां बता देना जरुरी है की 26 जनवरी को आंदोलनकारियों द्वारा दिल्ली में ट्रैक्टर परेड की चेतावनी दी गयी है, तथा पूर्व सैनिकों ने इसपर आपत्ति जताई है।

गणतंत्र दिवस
गणतंत्र दिवस

गणतंत्र दिवस देश का राष्ट्रीय पर्व-

बैठक में पूर्व सैनिकों ने कहा है गणतंत्र दिवस देश का राष्ट्रीय पर्व है. गणतंत्र दिवस पर सेना अदम्य साहस व शक्ति का प्रदर्शन करती है. पुरे देश के नागरिक सेना के अदम्य साहस व शक्ति पर गर्व करती है. सेना की परेड के साथ आंदोलनकारी अपना विरोध प्रदर्शन करते हैंं तो यह सेना का अपमान होगा तथा देश की छवि भी पुरे देश में धूमिल होगी। ऐसा करना ठीक नही होगा।

देश की छवि को न पहुंचे ठेस-

उन्होंने आंदोलन कर रहे किसानों से गणतंत्र दिवस पर ऐसा कोई भी कार्य न करने की अपील की है, जिससे देश की छवि को ठेस पहुंचे। बैठक में वीर चक्र विजेता पहलवान जीतेन्द्र सिंह, सूबेदार बलवीर सिंह, सूबेदार राज सिंह, वायु सेना के धर्मपाल सिंह, बिजेंद्र सिंह सहित अन्य पूर्व सैनिक मौजूद रहे।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *