कोरोना वैक्सीन लगाने के बाद सामने आये साइड इफ़ेक्ट के मामले

कोरोना वैक्सीन साइड इफ़ेक्ट
कोरोना वैक्सीन साइड इफ़ेक्ट

नई दिल्ली: देशभर में 16 जनवरी को कोरोना वैक्सीनेशन का अभियान शुरू हो गया. वैक्सीनेशन अभियान के पहले दिन 1,65,714 लोगों को वैक्सीन की खुराक दी गई. राजधानी दिल्ली में कोरोना वैक्सीन के साइड इफ्केट के 51 मामले सामने आए. एक शख्स को अस्पताल में भर्ती भी करना पड़ा. दिल्ली में वैक्सीनेशन अभियान के पहले दिन 4319 स्वास्थ्यकर्मियों को वैक्सीन लगाई गई। ये भी पढ़ें –भारत की पहली स्वदेशी 9 mm मशीन पिस्टल बनकर तैयार, जानें क्या है खूबियां

कोरोना वैक्सीन  साइड इफ़ेक्ट
कोरोना वैक्सीन साइड इफ़ेक्ट

वैक्सीन के हल्के प्रतिकूल परिणामों के मामले साउथ दिल्ली और साउथ वेस्ट दिल्ली में सबसे ज्यादा देखे गए. दोनों इलाकों में ऐसे 11 मामले सामने आए. उधर, एनडीएमसी के मुताबिक चरक पालिका अस्पताल के दो स्वास्थ्यकर्मियों में भी कोरोना वैक्सीन लगने के हल्के साइड इफेक्ट देखे गए. इन दोनों के सीने में कसावट महसूस हुई. AEFI की टीम की निगरानी में दोनों को रखा गया था. सामान्य महसूस करने के आधे घंटे के बाद उन्हें डिस्चार्ज कर दिया गया। ये भी पढ़ें-किसान बने बिल गेट्स, 18 राज्यों में खरीदी इतने एकड़ की जमीन 

कोरोना वैक्सीन  साइड इफ़ेक्ट
कोरोना वैक्सीन साइड इफ़ेक्ट

स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक वैक्सीनेशन के पहले दिन लाभार्थियों के लिस्ट अपडेट करने में देरी की कुछ समस्याएं सामने आईं. इसके अलावा कई जगहों पर ऐसे स्वास्थ्यकर्मियों को भी वैक्सीन लगाई गई जो शनिवार के सेशन के लिए नामांकित नहीं थे. दोनों ही मामले का निदान कर दिया गया है. आंकड़ों के मुताबिक पहले दिन देशभर में 16,755 वैक्सीनेटर थे जबकि 1 लाख 90 हजार से ज्यादा लाभार्थी। ये भी पढ़ें – 8 फरवरी को नही बंद होगा WhatsApp, जान लें ये नए नियम

इससे पहले वैक्सीनेशन को लेकर स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्ष वर्धन ने कहा कि हम सफलता की ओर कदम बढ़ा रहे हैं. हम साथ मिलकर कोरोना से लड़ रहे हैं. पूरी तैयारी के साथ कोरोना वैक्सीनेशन शुरू हुआ है. राज्यों से जो फीडबैक मिला है वो काफी अच्छा है. हमने एक साल में कोविड-19 के खिलाफ अपनी लड़ाई में एक हद तक सफलता पाई है। ये भी पढ़ें- Vaccination शुरू करते वक्त PM Modi ने कही ये अहम बातें

Leave a comment

Your email address will not be published.