कासगंज हत्याकांड में शहीद सिपाही के परिवार को 50 लाख, आश्रित को मिलेगी नौकरी

कासगंज हत्याकांड
कासगंज हत्याकांड

कासगंज : कानपुर के बिकरू कांड की जैसी कासगंज जिले में घटना हुई है। मंगलवार की रात दबिश देने गई पुलिस टीम पर शराब माफिया ने हमला कर दिया।ऐसा बताया गया है हमले में सिपाही शहीद हो गया, जबकि दरोगा की हालत गंभीर है।उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने घटना पर नाराजगी जताते हुए दोषियों पर कड़ी कार्रवाई का निर्देश दिया है। मुख्यमंत्री ने शहीद सिपाही के परिजनों को 50 लाख और आश्रित को नौकरी देने का एलान किया है।

कासगंज हत्याकांड
कासगंज हत्याकांड

Uttar Pradesh || Prayagraj में दिल दहलाने वाला हादसा || एक व्यक्ती की खुलेआम गोली मारकर हत्या ||

सिपाई पे किया हमला

कासगंज जिले के थाना सिढ़पुरा क्षेत्र के गांव नगला धीमर और नगला भिकारी में अवैध शराब की सूचना पर पेट्रोलिंग देने पहुंचे दरोगा अशोक कुमार सिंह और सिपाही देवेंद्र सिंह पर शराब माफिया ने मंगलवार शाम को हमला कर दिया था। इस दौरान सिपाही देवेंद्र की हत्या कर दी गई थी। सुचना मिलने के अनुसार दरोगा अशोक कुमार सिंह गंभीर रूप से घायल हैं। उनका इलाज भी चल रहा है। पुलिस टीम पर हमला कर सिपाही देवेंद्र सिंह की हत्या करने वाले शराब माफिया को पुलिस ने बुधवार तड़के मुठभेड़ में मार गिराया है। आरोपी का नाम ऐलकार है, जबकि दूसरा आरोपी फरार बताया जा रहा है।

कासगंज हत्याकांड
कासगंज हत्याकांड

कड़ी कार्रवाई का निर्देश

बिकरू कांड पर सीएम योगी ने बेहद सख्त रुख अपनाया था। कासगंज की घटना को भी उन्होंने गंभीरता से लिया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने घटना पर नाराजगी जताते हुए दोषियों पर कड़ी कार्रवाई के निर्देश दिए। उन्होंने शहीद सिपाही देवेंद्र के परिजनों को 50 लाख और आश्रित को नौकरी देने की भी घोषणा की है।

Leave a comment

Your email address will not be published.