इजराइल और हमास के बीच चल रहे रॉकेट युद्ध में एक भारतीय महिला की गई जान

इजराइल और हमास के बीच चल रहे रॉकेट युद्ध में एक भारतीय महिला की गई जान
इजराइल और हमास के बीच चल रहे रॉकेट युद्ध में एक भारतीय महिला की गई जान

नई दिल्ली : इजराइल (Israel) और हमास (Hamas) के बीच चल रही झड़प अब खूनी संघर्ष में बदल गई है। बीते दो दिनो से हो रहे हवाई हमले में कई जाने चली गई। मंगलवार को भी दोनों तरह से रॉकेट दागे गई जिसमें शहर को भारी नुकसान हुआ है।हमास की तरफ से दागे गए रॉकेट में एक भारतीय महिला की भी मौत हो गई है। बताया जा है इस महिला का नाम सौम्य संतोष है।

इजराइल और हमास के बीच चल रहे रॉकेट युद्ध में एक भारतीय महिला की गई जान
इजराइल और हमास के बीच चल रहे रॉकेट युद्ध में एक भारतीय महिला की गई जान

इजराइल द्वारा किए गए हवाई हमले में हमास का कमांडर ढेर, 26 की मौत

विदेश मंत्रालय जाहिर किया दुख

इजरायल के विदेश मंत्रालय ने जानकारी साझा करते हुए कहा कि हमास ने शहरी इलाकों में करीब 130 रॉकेट दागे हैं इसी दौरान भारतीय महिला सौम्य संतोष की मौत हो गई। इजराइली राजदूकृत डॉ रॉन मलका ने ट्वीट करते हुए सौम्य के परिवार के साथ अपनी संवेदना प्रकट की। आपको बता दें कि सौम्य का 9 साल का एक बेटा भी है।

 

इजराइल और हमास के बीच चल रहे रॉकेट युद्ध में एक भारतीय महिला की गई जान
इजराइल और हमास के बीच चल रहे रॉकेट युद्ध में एक भारतीय महिला की गई जान

जैश-उल हिंद नाम के संगठन ने ली इजरायल दूतवास के बाहर हुए ब्लास्ट की जिम्मेदारी

इजराइल में क्या करती थी सौम्या

सौम्या काफी लंबे वक्त से इजराइल में एक केयरटेकर के रुप में काम कर रही थी। वो एक 80 साल की वुजुर्ग महिला के साथ घर में रहते हुए उऩका ध्यान रखती थी। बताया जा रहा है कि जब रॉकेट से हमला हुआ तो सौम्य बुजुर्ग महिला के साथ ही थी लेकिन सौम्य की मौत हो गई और बुजुर्ग गंभीर रूप से घायल हैं।

जेरुसलम से है तनाव

आपको बता दें कि पिछले कुछ दिनों से तनाव बढ़ता ही जा रहा है। यहां आए दिन सुरक्षा बलों और फिलिस्तीनी प्रदर्शनकारियों के झड़पें हो रही हैं। ऐसे में ये झडपें 7 मई से बढ़ती गई और 10 मई तक 300 से अधिक लोग घायल हो गए और दर्जनों से अधिक पुलिसवालें भी जख्मी हो गए।

 

इजराइल और हमास के बीच चल रहे रॉकेट युद्ध में एक भारतीय महिला की गई जान
इजराइल और हमास के बीच चल रहे रॉकेट युद्ध में एक भारतीय महिला की गई जान

धमाके के बाद ऐसा रहा इजरायल दुतावास के बाहर का नजारा

क्या है विवाद

इन झड़पों और स्टाइक के पीछे की वजह के बारे में बताए तो 1967 के मध्य पूर्व युद्ध के बाद इसराइल ने पूर्वी येरुशलम को नियंत्रण में ले लिया था और वो पूरे शहर को अपनी राजधानी मानता है। वहीं अंतराष्ट्रीय समुदाय इसे सही नहीं मानते हैं और इसे आजाद मुल्क की राजधानी की तरह देखते हैं। बस इसी विवाद को लेकर इस वक्त ये खूनी खेल चल रहा है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *