अलवर: नारायणी धाम मंदिर में तोड़फोड़, सैन समाज में रोष

अलवर
अलवर

नई दिल्लीः अलवर: राजस्थान के अलवर जिले में स्थित नारायणी धाम का सैन समाज में बहुत बड़ा महत्त्व है। आपको बता दें पुरे भारतवर्ष में एक स्थान नारायणी धाम ही सैन समाज का स्थान है। टहला क्षेत्र स्थित नारायणी धाम पर सैन समाज ट्रस्ट के कार्यालय को प्रशासन द्वारा तोड़ने का मामला सामने आया है। इसके बाद से सैन समाज के लोगों में रोष का माहौल है। आज सेन समाज के नारायणी धाम पर महासभा ट्रस्ट के कार्यालय के प्रशासन द्वारा तोड़ने पर लोगों ने विरोश जताया ।

अलवर: सदियों पुरानी ट्रस्ट के ऑफिस को भी ध्वस्त कर दिया

मंदिर के आसपास रेहड़ी-पटरी वालों के अतिक्रमण कर लिया था। जिसके कारण ट्रस्ट ने कलेक्टर को पत्र लिखकर इस पर कार्यवाही करने की मांग की थी उन्होंने कहा था इन रेहड़ी पटरी वालों के कारण भक्तों को काफी दिक्क्त का सामना करना पड़ रहा है। लेकिन कलेक्टर ने अतिधर्मता अपनाकर बिना किसी पूर्व सुचना के सदियों पुरानी ट्रस्ट के ऑफिस को भी ध्वस्त कर दिया।

अलवर
अलवर

अतिक्रमण हम हटा देंगे

सैन समाज के अलवर के जिलाध्यक्ष नत्थीराम सैन ने कहा कि नारायण धाम के आस-पास अतिक्रमण को हटाने के लिये कलेक्टर के पास हम ही गए थे और कलेक्टर ने हमे आश्वासन दिया था की अतिक्रमण हम हटा देंगे। राजगढ़ जिला अलवर एसडीएम और प्रशासन ने अतिक्रमण की आड़ में हमारे ट्रस्ट के कार्यालय को तोड़ फोड़ डाला जो की बिल्कुल गलत है। इससे सैन समाज में रोष है और साथ ही कहा कि एसडीएम ने सरपंच और विधायक व पुजारी के साथ मिलकर समाज के कार्यालय को ध्वस्त करके बहुत ही गलत काम किया है। उन्होंने मांग की है कि प्रशासन हमारे कार्यालय को पुनः बनाकर दे वरना हम धरना प्रदर्शन करेंगे। लोगों की मांग है की जल्द ही इसपर कार्यवाही हो वरना हम देशव्यापी धरना करेंगे।

जनता कर्फ्यू का पूरा हुआ एक साल, वैक्सीन के बाद भी लाॅकडाउन जैसे हालात 

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *